Swastik Medical Centre

Vasundhara Sector 10 D/5, 

Ghaziabad, UP-201012

For Appointment 
Call: 8882162151

© 2017 Swastik Medical Centre

Best Neurologist in Ghaziabad, Best Neurologist in Vasundhara, Best Neurologist in Vaishali, Best Neurologist in Indirapuram, Best Neurologist in Noida, Headache Specialist in Ghaziabad, Headache Specialist in Vasundhara, Headache Specialist in Indirapuram, Headache Specialist in Vaishali, Headache Specialist in Noida,  Epilepsy Specialist in Ghaziabad, Epilepsy Specialist in Vasundhara, Epilepsy Specialist in Vaishali, Epilepsy Specialist in Indirapuram, Epilepsy Specialist in Noida,  Stroke Specialist in Ghaziabad, Stroke Specialist in Vasundhara, Stroke Specialist in Vaishali, Stroke Specialist in Indirapuram, Stroke Specialist in Noida, Migraine Specialist in Ghaziabad, Migraine Specialist in Vasundhara, Migraine Specialist in Vaishali, Migraine Specialist in Indirapuram, Migraine Specialist in Noida, Neurologist in Ghaziabad, Neurologist in Vasundhara, Neurologist in Vaishali, Neurologist in Indirapuram, Neurologist in Noida, Slip Disc Specialist in Ghaziabad, Slip Disc Specialist in Vasundhara, Slip Disc Specialist in Indirapuram, Slip Disc Specialist in Vaishali, Slip Disc Specialist in Noida, neuro physician in Ghaziabad, neuro physician in Vasundhara, neuro physician in Vaishali, neuro physician in Indirapuram, neuro physician in Noida, Spine and pain specialists in Ghaziabad, Spine and pain specialists in Vasundhara, Spine and pain specialists in Vaishali, Spine and pain specialists in Indirapuram, Spine and pain specialists in Noida, Headache doctor in Ghaziabad, Headache doctor in Vasundhara, Headache doctor in Indirapuram, Headache doctor in Vaishali, Headache doctor in Noida, Best neuro physician in Ghaziabad, Best neuro physician in Vasundhara, Best neuro physician in Vaishali, Best neuro physician in Indirapuram, Best neuro physician in Noida, Best Physician in Ghaziabad, Best Physician in Vasundhara, Best Physician in Vaishali, Best Physician in Indirapuram, Best Physician in Noida, Diabetes Specialist in Ghaziabad, Diabetes Specialist in Vasundhara, Diabetes Specialist in Indirapuram, Diabetes Specialist in Vaishali, Diabetes Specialist in Noida, Best General Physician in Ghaziabad, Best General Physician in Vasundhara, Best General Physician in Vaishali, Best General Physician in Indirapuram, Best General Physician in Noida, Thyroid Specialist in Ghaziabad, Thyroid Specialist in Vasundhara, Thyroid Specialist in Indirapuram, Thyroid Specialist in Vaishali, Thyroid Specialist in Noida,  Physician in Ghaziabad, Physician in Vasundhara, Physician in Vaishali, Physician in Indirapuram, Physician in Noida, Chest Physician in Ghaziabad, Chest Physician in Vasundhara, Chest Physician in Vaishali, Chest Physician in Indirapuram, Chest Physician in Noida, General Physician in Ghaziabad, General Physician in Vasundhara, General Physician in Vaishali, General Physician in Indirapuram, General Physician in Noida,

  • Facebook Social Icon
  • Blogger Social Icon
  • Google+ Social Icon

पेट दर्द और पेट की परेशानियां

पेट दर्द और पेट की परेशानियां   ( Stomach pain)

 

क्या होता है जब पेट में दर्द होता है?

 

जब आपको पेट में दर्द होता है, तो आपको पेट में दर्द या बेचैनी सी होती है। कभी-कभी सिर्फ यह ही परेशानी होती है लेकिन कभी कभी पेट दर्द के साथ आपको अन्य लक्षण भी हो सकते हैं जैसे कि:

  • छाती में जलन होना (Chest Burning)

  • बर्पिंग ( डकार आना ) (Burping))

  • महसूस करना जैसे आपका पेट हवा से भरा हुआ है (Bloating)

  • जब आप खाना शुरू करते हैं तो बहुत जल्दी पेट भरा हुआ लगना (Feeling of fullness)

 

क्या मुझे अपने पेट में दर्द के बारे में डॉक्टर को दिखाना चाहिए ?

ज्यादातर लोगों को पेट में दर्द के लिए डॉक्टर को दिखाने की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन आपको अपने डॉक्टर देखना चाहिए यदि आपको :

  • उल्टी, दस्त या लैट्रिन में ब्लड आये (Vomiting, loose motion, blood in stool)

  • तेज़ दर्द है और एक घंटे से अधिक समय तक चलता है या 24 घंटे से अधिक समय तक आता जाता रहता है (Severe pain, lasting for more than 1 hr and recurrent)

  • आपको 102 डिग्री फ़ारेनहाइट (39 डिग्री सेल्सियस) से अधिक बुखार है (High Grade Fever)

  • पेट में छूने से भी दर्द है (Abdominal Tenderness)

  • साँस लेने में दिक्कत महसूस हो रही है (breading Difficulty)

  • पेट में किसी तरह सूजन आ रही है या स्किन में पीलापन दिख रहा है ( Abdominal swelling or yellowness of skin)

  • यूरिन करते समय दर्द हो रहा है (pain while micturition)

 

इसके अलावा अगर आपका बिना किसी कारन वजन काम होता जा रहा है या खाने का मन नहीं करता है, तब भी आप अपने डॉक्टर से मिलें

 

पेट दर्द का क्या कारण हैं?

पेट में दर्द बहुत कारणों से हो सकता है क्युकी पेट में बहुत से ऑर्गन या अंग होते है और इनमे किसी में भी बीमारी होने से पेट दर्द हो सकता है। चाहे आपको हल्का पेट दर्द, तेज दर्द या ऐंठन हो, पेट के दर्द में कई कारण हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, आपका हाजमा ठीक नहीं होना, कब्ज, पेट इन्फेक्शन, या यदि आप एक महिला हैं, मासिक धर्म में भी आपको पेट में दर्द हो सकता है। अन्य संभावित कारणों में शामिल हैं :

  • इर्रिटेबल  बोवेल सिंड्रोम (आईबीएस) (IBS)

  • क्रोहन्स  डिजीज (Crohn Disease)

  • फ़ूड पोइज़निंग (Food Poisoning)

  • फ़ूड एलर्जी (Food Allergy)

  • गैस या एसिडिटी (Gastritis, Acidity)

  • स्टोमक अलसर (Stomach Ulcer)

 

कुछ अन्य पेट दर्द के कारणों में शामिल हैं:

  • हरनिया (Hernia)

  • पित्ताशय की पथरी (Gall Bladder Stone)

  • किडनी में  पथरी (Kidney stone)

  • एंडोमेट्रिओसिस (Endometriosis)

  • गैस्ट्रोसोफेजियल रीफ्लक्स बीमारी (जीईआरडी) (GERD)

  • ऍपेन्डिसाइटिस (Appendicitis)

 

पेट दर्द का उपचार या इलाज़ क्या है ?

 

यदि पेट दर्द किसी बीमारी के कारण है, जैसे की पेट का अलसर (Ulcer), तो उस बीमारी का इलाज करवाना चाहिए तभो पेट दर्द में आराम पड़ेगा ।  लेकिन कभी कभी जांचों के बावजूद पेट दर्द के कारणों का पता नहीं चल पता है, ऐसे में आपके डॉक्टर आपको कुछ दवाइयां दे सकते हैं जो आपके पेट दर्द के लक्षणों में आराम दिलाती हैं । अक्सर ऐसे में आपको एसिड कम करने की दवाइयां दी जाती है जिन्हे एंटासिड (antacid) कहते है। ये दवाएं अक्सर पेट में दर्द और इसके साथ आने वाले लक्षणों को ठीक करती हैं। इनमें से कुछ दवाएं बिना पर्चे के केमिस्ट से ले सकते हैं।

 

पेट में दर्द को रोकने के लिए घर में क्या किया जा सकता है ?

अगर आपको अक्सर पेट दर्द रहता है और जांचों के बाद भी कारन नहीं पता चलता है, आपको अपने खाने में कुछ बातों का ध्यान रक्खें

  • लाल मांस (Red Meat) , मक्खन (Butter), तला हुआ भोजन (Fried Food), और पनीर जैसे फैटी चीज़ें न खाएं

  • दो या तीन बार ज्यादा खानें की बजाय, दिन में कम खाना कई बार खायें (small and frequent meals)

  • ऐसा खाना ना खायें जिनको खाने से आपको ज्यादा परेशानी होती है (Avoid food which cause problem)

  • दर्द की दवाइयाँ  केमिस्ट से ले कर अपने आप न खाएं, जैसे की  एस्पिरिन या इबुप्रोफेन (asprin and brufen)

 

कुछ लोग को - विशेष रूप से बच्चे - कभी-कभी दूध पीने या पनीर, आइसक्रीम, या अन्य खाद्य पदार्थ खाने के बाद पेट में दर्द होता है। उन्हें "लैक्टोज इनटॉलेरेंस (Lactose Intolerance)" नामक एक समस्या होती है जिसका मतलब है कि वे उन खाद्य पदार्थों को पूरी तरह से पचा नहीं सकते हैं जिनमें दूध है।

 

लैक्टोज इनटॉलेरेंस वाले लोग दूध से होने वाली समस्याओं से बच सकते हैं यदि वे लैक्टेज (Lactace) नामक दवा लेते हैं। लैक्टेज, आपके शरीर को दूध  पचने में मदद करता है।

यदि आपका लगता है पेट दर्द कब्ज (constipation) की वजह से हो रहा है, तो आपको अधिक फाइबर (fibre) वाला भोजन करिये। आप  (Luxatives) दवाएं भी ले सकते है अगर आपको बहुत ज्यादा कब्ज़ है, ये दवाएं पेट साफ़ करने में मदद करती है।

 

 

 

 

Share on Facebook
Share on Twitter
Please reload

Featured Posts

डेंगू

September 26, 2019

1/5
Please reload

Recent Posts

September 26, 2019

July 19, 2019

July 19, 2019