Swastik Medical Centre

Vasundhara Sector 10 D/5, 

Ghaziabad, UP-201012

For Appointment 
Call: 8882162151

© 2017 Swastik Medical Centre

Best Neurologist in Ghaziabad, Best Neurologist in Vasundhara, Best Neurologist in Vaishali, Best Neurologist in Indirapuram, Best Neurologist in Noida, Headache Specialist in Ghaziabad, Headache Specialist in Vasundhara, Headache Specialist in Indirapuram, Headache Specialist in Vaishali, Headache Specialist in Noida,  Epilepsy Specialist in Ghaziabad, Epilepsy Specialist in Vasundhara, Epilepsy Specialist in Vaishali, Epilepsy Specialist in Indirapuram, Epilepsy Specialist in Noida,  Stroke Specialist in Ghaziabad, Stroke Specialist in Vasundhara, Stroke Specialist in Vaishali, Stroke Specialist in Indirapuram, Stroke Specialist in Noida, Migraine Specialist in Ghaziabad, Migraine Specialist in Vasundhara, Migraine Specialist in Vaishali, Migraine Specialist in Indirapuram, Migraine Specialist in Noida, Neurologist in Ghaziabad, Neurologist in Vasundhara, Neurologist in Vaishali, Neurologist in Indirapuram, Neurologist in Noida, Slip Disc Specialist in Ghaziabad, Slip Disc Specialist in Vasundhara, Slip Disc Specialist in Indirapuram, Slip Disc Specialist in Vaishali, Slip Disc Specialist in Noida, neuro physician in Ghaziabad, neuro physician in Vasundhara, neuro physician in Vaishali, neuro physician in Indirapuram, neuro physician in Noida, Spine and pain specialists in Ghaziabad, Spine and pain specialists in Vasundhara, Spine and pain specialists in Vaishali, Spine and pain specialists in Indirapuram, Spine and pain specialists in Noida, Headache doctor in Ghaziabad, Headache doctor in Vasundhara, Headache doctor in Indirapuram, Headache doctor in Vaishali, Headache doctor in Noida, Best neuro physician in Ghaziabad, Best neuro physician in Vasundhara, Best neuro physician in Vaishali, Best neuro physician in Indirapuram, Best neuro physician in Noida, Best Physician in Ghaziabad, Best Physician in Vasundhara, Best Physician in Vaishali, Best Physician in Indirapuram, Best Physician in Noida, Diabetes Specialist in Ghaziabad, Diabetes Specialist in Vasundhara, Diabetes Specialist in Indirapuram, Diabetes Specialist in Vaishali, Diabetes Specialist in Noida, Best General Physician in Ghaziabad, Best General Physician in Vasundhara, Best General Physician in Vaishali, Best General Physician in Indirapuram, Best General Physician in Noida, Thyroid Specialist in Ghaziabad, Thyroid Specialist in Vasundhara, Thyroid Specialist in Indirapuram, Thyroid Specialist in Vaishali, Thyroid Specialist in Noida,  Physician in Ghaziabad, Physician in Vasundhara, Physician in Vaishali, Physician in Indirapuram, Physician in Noida, Chest Physician in Ghaziabad, Chest Physician in Vasundhara, Chest Physician in Vaishali, Chest Physician in Indirapuram, Chest Physician in Noida, General Physician in Ghaziabad, General Physician in Vasundhara, General Physician in Vaishali, General Physician in Indirapuram, General Physician in Noida,

  • Facebook Social Icon
  • Blogger Social Icon
  • Google+ Social Icon

डायबिटीज ( Diabetes ) और आहार ( Diet )

  

डायबिटीज और आहार (Diet)

 

मधुमेह में आहार क्यों महत्वपूर्ण है?

डायबिटीज के उपचार का आहार एक महत्वपूर्ण हिस्सा है । डायबिटीज की इलाज के लिए डायबिटीज के मरीजों को अपने खाने में बद्लाव करना जरुरी है ताकि वे अपने ब्लड शुगर को सामान्य स्तर पर या उसके पास रखें और डायबिटीज की वजह से होने वाली दिल या गुर्दे की बीमारियों से बच सकतें है।

 

आहार को बदलने से मोटापे, उच्च रक्तचाप और उच्च कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) का इलाज भी हो सकता है। ये स्थितियां डायबिटीज  वाले लोगों को प्रभावित कर सकती हैं और भविष्य में  दिल के दौरे (Heart Attack) या स्ट्रोक (stroke) का कारण बन सकती हैं।

 

क्या मुझे रोज एक ही समय में खाने की ज़रूरत है?

आपको कब और कितनी बार खाना चाहिए, इस बात पर भी निर्भर करता है की आप किस तरह की दवा डायबिटीज के लिए लेते हैं ।

 

उदाहरण के लिए, जो लोग इंसुलिन का उपयोग करते हैं या जो डायबिटीज की  गोलियां लेते हैं, जो इंसुलिन के स्तर को बढ़ती हैं, ऐसे लोगों को  रोज़  एक ही समय में भोजन खाना चाहिए । इससे हाइपोग्लाइसीमिया (Hypoglycemia) होने की सम्भवना को कम करने में मदद मिलती है।

जो लोग इंसुलिन पंप का उपयोग करते हैं, खाने से पहले हर बार इंसुलिन लेते हैं, या ऐसी गोलियां लेते हैं जो इंसुलिन की काम करने  की क्षमता में सुधार करती  है, ऐसे लोगों को हमेशा एक ही समय में भोजन करने  की जरुरत  नहीं है।

 

मुझे अपनी डाइट प्लान करते  वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ?

हम  जो भी खाना खाते है हमारा शरीर उसे,  कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा नामक छोटे टुकड़ों में में तोड़ देता है खाने के बारे में प्लान बनाते समय,डायबिटीज के लोगों को इस बारे में सोचना चाहिए:

 

कार्बोहाइड्रेट (या "कार्ब्स") – कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrates) जो  हमारा शरीर ऊर्जा के लिए उपयोग करता है, ब्लड में शुगर का लेवल  बढ़ा सकते हैं। कार्बोहाइड्रेट वाले खाद्य पदार्थों में शामिल हैं:

  • रोटी और चावल

  • सब्जियां और फल

  • दूध से मिलने वाली चीज़े

फल, सब्जियां, साबुत अनाज, और कम फैट वाले दूध से कार्बोहाइड्रेट प्राप्त करना सबसे अच्छा है

 

प्रोटीन : लीन  मीट (Lean Meat) (स्किनलेस  चिकन और टर्की  और रेड  मीट , जैसे की पोर्क  चोप्स) , मछली, अंडे, सेम, मटर, सोया उत्पाद, नट, और बीज खाने के लिए सबसे अच्छा है।

 

फैट (Fat) - आप जो फैट  खाते हैं उसकी मात्रा से अधिक महत्वपूर्ण है आप किस तरह का फैट कहते हैं। "सैचुरेटेड (saturated)" और "ट्रांस (Trans)" फैट  दिल की बीमारियां बढ़ा सकते हैं, जैसे दिल का दौरा।

सैचुरेटेड फैट मांस, मक्खन, पनीर और आइसक्रीम में होता है।

ट्रांस फैट ऐसे खाने में होता होता है जोकि  "हाइड्रोजनेटेड  तेल (Hydrogenated Oil)" में बनाये गए हैं। इसमें तला हुआ भोजन, स्टोर किये  गए कुकीज़, मफिन और केक आदि हो सकते हैं।

"मोनौंसेचुरेटेड (Monounsaturated)" और "पॉलीअनसेचुरेटेड (Polyunsaturated)" फैट आपके लिए बेहतर हैं। इन प्रकार का फैट  मछली, एवोकैडो (Avocado), जैतून (Olive) का तेल, और नट्स (काजू, बादाम, अखरोट आदि ) में मिलता है।

 

कैलोरी(calories) - लोगों को अपना वजन वही रखने के लिए रोज़ कैलोरी की एक निश्चित राशि खाने की आवश्यकता होती है। जिन लोगों का वजन जयादा है और अगर वह लोग अपना वजन कम करना चाहते है तो उन्हें  रोज़  कम कैलोरी खाने की जरूरत होती है।

 

फाइबर (Fibre) - ज्यादा फाइबर वाले खाने को खाने से शुगर को कण्ट्रोल करने में मदद मिल सकती है।

 

नमक - जिन लोगों B P ज्यादा रहता है  है उन्हें खाने में नमक (सोडियम भी कहा जाता है) काम खाना चाहिए। उच्च रक्तचाप वाले लोगों को फल, सब्जियां और कम फैट  वाले डेयरी खाद्य पदार्थ जैसे स्वस्थ भोजन भी खाना चाहिए।

 

शराब - दिन में 1 से अधिक पेय (महिलाओं के लिए) या 2 पेय (पुरुषों के लिए) ब्लड  शुगर के स्तर को बढ़ा सकता है। इसके अलावा, उन पेय पदार्थ जिनमें फलों का रस या सोडा होता है, वे भी ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकते हैं।

 

अगर मुझे वजन कम करने की ज़रूरत है तो मैं क्या कर सकता हूं ?

 

यदि आपको वजन कम करने की आवश्यकता है, तो आप यह कर सकते हैं:

व्यायाम (Exercise) - सप्ताह रोज़  30 मिनट व्यायाम करने का प्रयास करें। डायबिटीज के कुछ लोगों में व्यायाम करने से पहले डायबिटीज की दवा बदलने की जरुरत पड़ सकती है। व्यायाम करने से पहले और बाद में उन्हें अपने ब्लड शुगर लेवल की भी आवश्यकता हो सकती है।

कम कैलोरी खाएं - आप  डॉक्टर  या आहार विशेषज्ञ की सहायता ले और मालूम करें की रोज़ आपको कितनी कैलोरी खाना चाहिए।

 

 

क्या मैं अपने परिवार के समान भोजन खा सकता हूं ?

हाँ। यदि आपको डायबिटीज  है तो आपको कुछ अलग खाने की ज़रूरत नहीं है। आप और आपका परिवार एक ही भोजन खा सकते हैं। अपने आहार को बदले से ज्यादा जरुरी है  स्वस्थ भोजन खाना और सही मात्रा में खाना।

 

डायबिटीज के इलाज़ के और क्या शामिल है?

 

डायबिटीज के इलाज़ के अन्य महत्वपूर्ण हिस्से हैं:

  • व्यायाम

  • दवाएं

मधुमेह वाले लोगों को यह जानने की जरूरत है कि उनके आहार और व्यायाम के साथ अपनी दवा कैसे लें। यदि आहार और व्यायाम दवा की खुराक से मेल नहीं खाता है, तो एक व्यक्ति का ब्लड शुगर लेवल  बहुत कम या बहुत अधिक हो सकता है। ब्लड शुगर लेवल जो बहुत कम या बहुत अधिक होता है, समस्याएं पैदा कर सकता है।

Share on Facebook
Share on Twitter
Please reload

Featured Posts

डेंगू

September 26, 2019

1/5
Please reload

Recent Posts

September 26, 2019

July 19, 2019

July 19, 2019