top of page

बुखार के दौरान आहार / बुखार में क्या खाएं ?



बुखार के दौरान आहार / बुखार में क्या खाएं

  • तरल पदार्थ (Liquids): पानी, रस, सूप या सब्जियों का शोरबा के रूप में तरल पदार्थ बार-बार लिया जाना चाहिए। ताजा नींबू, नारंगी या अंगूर के रस को शक्कर के बिना पतला करके लिया जाना चाहिए। खट्टे फलों के रस में विटामिन सी अधिक मात्रा में होता है और यह विटामिन शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाता है और शरीर की बीमारी से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है। चिकन सूप विशेष रूप से विभिन्न फ्लू संबंधी लक्षणों के साथ कम करने में मदद करता है। यह प्रोटीन का भी एक अच्छा स्रोत है जो शरीर को बीमारी से उभरने में मदद करता है और ठीक होने की प्रक्रिया को तेज़ करता है।

  • प्रोबायोटिक खाद्य पदार्थ (Probiotic Foods): ये भोजन अच्छे जीवाणुओं का स्रोत हैं जो शरीर में पाए जाने वाले अच्छे जीवाणुओं के समान हैं। प्रोबायोटिक में समृद्ध खाद्य स्रोतों में दही, छाछ, और डार्क चॉकलेट जैसी चीज़ शामिल हैं।

  • हल्का खाना: उबली हुई सब्जियों, खचिरी, डालीया, उबला हुआ अंडे और दही से युक्त भोजन पचने में आसान होता है और जल्दी ठीक होने में मदद भी करता है

  • ताज़े फल: फलों को पचना आसान होता है और इनमें बहुत प्रकार के विटामिनों होते हैं जो की ठीक होने में मदद करते हैं

तरल चीज़ो में डाल कर पीने के लिए

  • लहसुन: जब किसी को बुखार हो तब तरल पदार्थ में डालने के लिए के लिए लहसुन सबसे बढ़िया चीज़ों में से एक है । इसमें एंटीऑक्सिडेंट का बहुत ही अच्छी मात्रा होती है जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्युनिटी) को बढ़ावा देने में मदद करता है।

  • एंजेलिका की जड़: यह जड़ शरीर के उच्च तापमान को कम करने में मदद करती है और जब खाने में डाली जाती है तो यह खाने को अधिक पचने योग्य बनाती है।

  • किशमिश: किशमिश भी बुखार में खाने के लिए अच्छा है। किशमिश में एंटीऑक्सिडेंट (Anitoxident) होते हैं, जो प्रतिरक्षा प्रणाली पर सुधार करता है जिससे बुखार जल्दी ठीक होता है। यह विटामिन सी (Vitamin C) में भी समृद्ध होता है, जिससे शरीर को जल्दी से ठीक होने में मदद मिलती है।

  • बेसील (तुलसी): यह बुखार को कम करने में मदद करती है और जल्दी ठीक होने में मदद करती है।

  • अजवायन की पत्ती: यह सर्दी, फ्लू और बुखार का इलाज करने में मदद करती है।

बुखार में क्या नहीं खाना चाहिए

  • तले हुए खाद्य पदार्थ, कच्चे खाद्य पदार्थ और जंक फूड लेने से बचें, क्योंकि उन्हें डाईस्ट करने में मुश्किल होती है

  • कच्चा दूध या दूध उत्पादों को पीने से बचें।

  • लाल बीफ, मछली और मांस के खाने से बचें क्योंकि इनमें कोलेस्ट्रॉल बहुत अधिक होता हैं और पचाने में आसान नहीं होते हैं।

  • सोडा, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स, कॉफी और चाय नहीं लेना चाहिए ।

  • शराबी, तम्बाकू और धूम्रपान भी नहीं करना चाहिए ।

Commentaires


Featured Posts
Recent Posts
Archive
Search By Tags
Follow Us
  • Facebook Basic Square
  • Twitter Basic Square
  • Google+ Basic Square
bottom of page